Wine Benefit

रोज़ शराब पीने वालों को जरुर पढ़नी चाहिये

हर किसी को पता है कि शराब पीने से शरीर का नुकसान ही नुकसान है, लेकिन फिर भी शराबियों की कमी नहीं हो रही। बडे़-बड़े शहरों में अगर आप चलते फिरते हुए देंखे तो, सड़कों पर एक-दो लोग शराब पी कर जरुर पड़े मिलेंगे।




कभी-कभार शराब पीने से उतना नुकसान नहीं होता जितना इसे पानी की तरह नियमित रूप पर पीने से होता है। अल्‍कोहल खून के जरिये पूरे शरीर में पहुंच जाती है जिससे यह शरीर के हर अंग पर प्रभाव छोड़ती है।

अगर आप हफ्तेभर शराब का सेवन करते हैं तो आपके लिये आने वाला जीवन काफी कठिन बनने वाला है क्‍योंकि अभी तो शायद आपको काफी मज़ा आ रहा होगा लेकिन जब बाद में शराब की वजह से आपके अंग खराब हो चुके होंगे, तब आप यह बात समझेंगे। आइये पढ़तें हैं लंबे समय तक शराब पीते रहने से क्‍या होता है?

हो सकता है लिवर, स्‍तन और गले का कैंसर
शराब में कैंसर पैदा करने वाले गुण होते हैं। स्‍टडीज़ में पाया गया है कि सीधे तौर पर कैंसर का खतरा पैदा करता है। आप इसको नियमित रूप से पियें या कभी कभार, यह सिर और गले, लिवर, स्तन और कोलोरेक्टल आदि कैंसर को बढ़ावा देती है।


शरीर में Vitamin B12 कम बनेगा
B12 तंत्रिकाओं और रक्त कोशिकाओं को स्‍वस्‍थ रखने का काम करता है। यह ब्रेन, स्पाइनल कॉर्ड और न‌र्व्स के कुछ तत्वों की रचना में भी सहायक होता है। शराब B12 के लेवल को घटा देती है और उसका कम निर्माण करती है। इससे पुरुषों में इन्फर्टिलिटी या सेक्सुअल डिस्फंक्शन की भी समस्या हो सकती है।

शरीर, कैल्‍शियम और विटामिन डी अवशोषित नहीं कर पाता
शराब पीने से हमारी आंत कमजोर हो जाती है जिससे वह कैल्‍शियम और विटामिन डी अवशोषित नहीं कर पाता। इन जरुरी मिनरल्‍स की कमी की वजह से हड्डियों पर बड़ा ही बुरा असर पड़ता है।

लिवर डैमेज
इसको ज्‍यादा पीने से सिरोसिस हो जाता है जिससे लिवर में घाव हो जाता है और वह ठीक से काम नहीं कर पाता। इससे इंसान की मृत्‍यु भी हो सकती है।


अवसाद
शराब दिमाग से निकलने वाले हार्मोन का लेवल कम कर देती है। यही वही हार्मोन होता है जो हमें अच्‍छा महसूस करवाता है। शराब कुछ देर के लिये तो मूड को बेहतर बनाती है लेकिन बाद में यह हमें अवसाद के घेरे में ढकेल देती है।

दिमागी कमजोरी
लंबे समय तक शराब के सेवन से दिमाग सोंचने-समझने तथा निर्णय लेने की क्षमता खो बैठता है। इसके अलावा डिमेंशिया नामक बीमारी हो जाती है जिसमें व्‍यक्‍ति अपनी याददाश धीरे धीरे खोने लगता है।

नपुंसकता का खतरा
अधिक मात्रा में शराब का सेवन वीर्य को नुकसान पहुंचाता है। इससे वीर्य की क्‍वालिटी घट जाती है। साथ ही इससे हार्मोन का संतुलन भी बिगड़ जाता है , जिससे शुक्राणुओं पर बुरा असर पड़ता है।

हृदय रोग

रिसर्च के माध्‍यम से पता चला है कि ज्‍यादा शराब के सेवन से दिल की मासपेशियां कमजोर पड़ने लगती हैं, जिससे हृदय तक पहुंचने वाला रक्‍त सही गति से उस तक नहीं पहुंच पाता। इसके आलावा इससे हार्ट अटैक, स्‍ट्रोक और हाई बीपी भी हो सकता है।
| Designed by Colorlib