Bharat ka rashtriya khel क्या है और आप क्या है भारत का खेल

Bharat ka rashtriya khel – प्रत्येक व्यक्ति को अपने देश के राष्ट्रीय खेल के बारे में जानकारी होनी चाहिए राष्ट्र खेल उसे कहा जाता है जिस खेल के कारनामों की वजह से उस देश को जाना जाए और उस देश की जनता इस खेल को पसंद करती हो। हालांकि Bharat ka Rashtray Khel वर्तमान समय में भारत के नव युवकों की से दूर होता चला जा रहा है मगर किसी समय में यह भारत का एक मनपसंद खेल हुआ करता था। आज के लेख में हम इसी बारे में चर्चा करेंगे और भारत का राष्ट्रीय खेल आपको बताएंगे कि क्या है।

Bharat ka rashtriya khel क्या है और आप क्या है भारत का खेल

आज से कुछ साल पहले विश्व के सभी देश खेल की तरफ इतना अधिक आकर्षित हुए कि कॉमनवेल्थ गेम और ओलंपिक जैसे अलग-अलग प्रकार के खेल का आयोजन करवाने लगे थे पहले यह राजा के मनोरंजन के लिए करवाया जाता था मगर जब गणतंत्र हर देश में आया तो लोग इसे एक राष्ट्र सम्मेलन के तौर पर इस्तेमाल करने लगे और वहां अपने राष्ट्र खेल को बताने की प्रक्रिया शुरू की गई इस वक्त हर देश ने अपनी एक राष्ट्रीय खेल का चयन किया भारत ने किस राष्ट्रीय खेल का चयन किया और Bharat ka Rashtray Khel क्या है आज के लेख में बताया गया है।

Bharat ka Rashtriya Khel

भारत का राष्ट्रीय खेल हॉकी है जो आज से कुछ साल पहले चुना गया था इस खेल को हॉकी के जादूगर कहे जाने वाले ध्यानचंद की वजह से प्रचलित था हासिल हुई। ध्यानचंद भारत के प्रचलित हॉकी खिलाड़ी थे जिनकी हॉकी खेलने की कला को देखकर विश्व के सबसे प्रचलित नेता हिटलर प्रभावित हुआ था और उन्हें जर्मनी की नागरिकता दे रहा था मगर उन्होंने ठुकरा दिया। 

Bharat ka Rashtray Khel हॉकी है जिसके लिए भारत विश्व भर में प्रचलित है हॉकी के विभिन्न प्रकार के खेलों में भारत बढ़ चढ़कर हिस्सा लेता है और उसमें अपनी ख्याति सदैव भी खेलता रहता है। अगर भारत में इस खेल के प्रचलिता की बात करें तो भारत में सबसे अधिक क्रिकेट का प्रचलन है मगर यह आधुनिकता की दौड़ की वजह से है इससे पहले हॉकी भारत में बहुत ही प्रचलित हुआ करता था और हॉकी के जादूगर कहे जाने वाले ध्यानचंद जैसे खिलाड़ी भारत का नाम पूरे विश्व में बैठे रहे थे

Also Read – जानिए घर बैठे बैंक बैलन्स चेक करने का तरीका

हॉकी कैसे खेलते हैं?

हॉकी 8 लोगों के द्वारा खेला जाता है जिसमें बहुत सारे लोगों के एक मैदान में छोटी सी गेंद के साथ खेलते हैं उसमें एक व्यक्ति गोलकीपर होता है जिसका कार्य आती हुई केंद्र को पकड़ना होता है और बाकी खिलाड़ियों का कार्य होता है कि वह दूसरे प्रतिबंधी टीम के गोल में अपने गेंद को पहुंचा दें। 

हॉकी बहुत ही मजेदार खेल है इसमें बहुत सारे लोग अपने एक हॉकी स्टिक से गेंद को मारते हैं ताकि सामने वाला व्यक्ति उस गेंद को पकड़ना पाए और उसके गोल में चला जाए मगर गोलकीपर का काम होता है कि वह उस गेंद को पकड़े और केंद्र को गोल में जाने ना दें। 

निष्कर्ष

उम्मीद करते हैं ऊपर बताई गई सभी जानकारियों को पढ़ने के बाद आप यह समझ पाए होंगे कि भारत का राष्ट्रीय खेल क्या है और कैसे आप इस खेल से विश्व भर में ख्याति हासिल कर सकते हैं साथ ही क्यों Bharat ka Rashtray Khel होती है, इसके बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी आज के लेख में देने का हमने प्रयास किया इसे सभी लोगों के साथ साझा करें और अपने विचार हमें कमेंट में बताना ना भूलें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *