भारत मे ट्रेन ड्राइवर की सैलरी कितनी है – Railway driver salary kitni hai

Railway driver salary kya hai, जानिए Railway Driver की सैलरी कितनी होती है और कितने से शुरू होती है के बारे मे विस्तार जानकारी

आज भारत में सरकारी नौकरी की बहुत मारामारी है हर कोई किसी ना किसी तरह से सरकारी नौकरी को पाना चाहता है रेलवे सरकार की रीढ़ मानी जाती है अर्थात सरकारी नौकरी की अगर बात करें तो रेलवे सबसे अच्छा सरकारी नौकरी विकल्प के रूप में देखा जाता है। जिस वजह से बहुत सारे छात्र रेलवे ड्राइवर बनने का सपना देखते हैं और इस सपने को देखते ही उनके मन में सबसे पहले railway driver salary kitni hai का ख्याल आता है अगर आप भी इसके बारे में गूगल पर ढूंढ रहे हैं और रेलवे ड्राइवर की सैलरी कितनी होती है जानना चाहते हैं तो नीचे बताई गई जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

आज आप भारत में कहीं भी घूमना चाहे तो सबसे सस्ता अच्छा और आरामदायक ट्रांसपोर्ट रेलवे को माना जाता है भारत में बहुत बड़ी जनसंख्या के रोजाना जरूरत को पूरा कर रहा है अगर आप रेलवे ड्राइवर बनना चाहते है या railway driver salary kitni hai के बारे में जानना चाहते हैं तो नीचे जानकारियों को ध्यानपूर्वक पढ़ें और निर्देशों का पालन करें। 

भारत मे ट्रेन ड्राइवर की सैलरी कितनी है - Railway driver salary kitni hai

रेलवे ड्राइवर कौन होता है?

अगर आज भारत में आपको कहीं भी जाना हो तो लंबी दूरी तय करने के लिए सबसे आरामदायक और बेहतर ट्रांसपोर्ट रेलवे को माना जाता है इस रेलगाड़ी को चलाने के लिए एक वरिष्ठ अधिकारी इंजन नाम के बोगी में सबसे आगे बैठता है जो पूरी रेलगाड़ी पर अपना नियंत्रण रखकर उसे ध्यान से एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक लेकर जाता है इस व्यक्ति को रेलवे ड्राइवर कहा जाता है।

प्रतेक रेलगाड़ी में दो रेलवे ड्राइवर होते है जो रेलगाड़ी के सबसे आगे वाले डब्बे अर्थात इंजन में बैठते हैं वहां से वे रेलगाड़ी के चक्के और पटरी पर अपना काबू रखते हुए रेलगाड़ी को ध्यान से पटरी पर चलाते हुए एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक ले जाने जाते है।

रेलवे ड्राइवर क्या करता है?

रेलवे ड्राइवर एक बहुत जिम्मेदारी भरा कार्य करता है रेलवे ड्राइवर की नौकरी कोई आसान नौकरी नहीं होती इस एक व्यक्ति के कंधे पर रेल गाड़ी में बैठे 100 की तादाद में लोगों के जान और उनके सामान के सुरक्षा की जिम्मेदारी होती है। रेलवे ड्राइवर का मुख्य कार्य एक रेलगाड़ी को एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक ले जाने का होता है।

रेलगाड़ी में अलग-अलग तरह के लोग होते हैं जो रेलगाड़ी को सरलता और सजगता से चलाने में सरकार की मदद करते हैं बहुत सारे लोग एक साथ एक रेलगाड़ी में एकाग्रता से काम करते हैं तब जाकर बहुत सारे लोगों को एक आरामदायक ट्रांसपोर्ट मिल पाता है। सरल शब्दों में रेलवे ड्राइवर एक ऐसा व्यक्ति होता है जो बहुत जिम्मेदारी भरा कार्य करता है और एक रेलगाड़ी के पटरी चक्के बोगी पर अपना पूरा ध्यान न देते हुए उसे आदमी और सामान के साथ भरकर एक रेलवे स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक ले जाता है।

 रेलवे ड्राइवर के लिए क्वालिफिकेशन

अगर आप रेलवे ड्राइवर बनना चाहते हैं तो इसके लिए कुछ प्रमुख क्वालिफिकेशन रखी गई है जिसके बारे में आपको जानकारी होनी चाहिए क्योंकि उसके बाद ही आप एक रेलवे ड्राइवर की नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं मुख्य रूप से किसी भी सरकारी नौकरी में उम्र, शिक्षण योग्यता और शारीरिक दक्षता की क्वालिफिकेशन देखी जाती है अगर हम रेलवे ड्राइवर की बात करें तो इस नौकरी के लिए आपको किसी भी प्रकार के शारीरिक दक्षता की आवश्यकता नहीं होती है।

रेलवे ड्राइवर बनने के लिए उम्र सीमा

प्रत्येक सरकारी नौकरी की तरह रेलवे ड्राइवर के आवेदन करने के लिए भी एक निश्चित उम्र सीमा रखी गई है जिसके आधार पर न्यूनतम उम्र सीमा 18 वर्ष और अधिकतम उम्र सीमा 35 वर्ष रखी गई है हालांकि अलग-अलग वर्ग के लोगों के लिए यह उम्र सीमा अलग-अलग है।

  • सामान्य वर्ग के लोगों के लिए – न्यूनतम उम्र सीमा 18 वर्ष और अधिकतम उम्र सीमा 30 वर्ष रखी गई है।
  • ओबीसी वर्ग के लोगों के लिए – न्यूनतम उम्र सीमा 18 वर्ष और अधिकतम उम्र सीमा में 3 वर्ष की छूट देते हुए 33 वर्ष रखी गई है।
  • SC ST वर्ग के लोगों के लिए – न्यूनतम उम्र सीमा 18 वर्ष और अधिकतम उम्र सीमा में 5 वर्ष की छूट देते हुए 35 वर्ष रखी गई है।

रेलवे ड्राइवर बनने के लिए शिक्षण योग्यता

ट्रेन ड्राइवर बनने के लिए ITI की प्रमुख शिक्षा लेनी होगी, ट्रेन ड्राइवर बनने के लिए जिस परीक्षा को पास करना होता है उसमें आईटीआई से जुड़े प्रश्न पूछे जाते हैं और आप बिना अपरेंटिस अनुभव या औद्योगिक प्रशिक्षण के इस परीक्षा को पास नहीं कर सकते जिस वजह से शिक्षण योग्यता के रूप में रेल ड्राइवर के लिए वही व्यक्ति आवेदन कर सकता है जिसके पास आईटीआई की डिग्री हो इस डिग्री को पाने के लिए आप बारहवीं कक्षा के बाद आवेदन कर सकते हैं।

रेलवे ड्राइवर कैसे बने

ऊपर बताई गई सभी जानकारियों को पढ़ने के बाद अगर आप रेलवे ड्राइवर बनना चाहते हैं तो हम आपको बता दें कि रेलवे ड्राइवर बनने के लिए आपको नीचे बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करने की आवश्यकता है।

Step 1 – सबसे पहले अपनी प्राथमिक शिक्षा पूरी करें।

किसी भी नौकरी को पाने के लिए शिक्षा बहुत अहम भूमिका निभाती है अगर आप रेल ड्राइवर बनना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अपनी दसवीं और बारहवीं कक्षा के पढ़ाई को ध्यान पूर्वक सफलता से पूरा करना होगा। रेलवे ड्राइवर के रूप में नौकरी करने के लिए आपको रेलवे ड्राइवर की परीक्षा को पास करना होगा कि इस परीक्षा में बैठने के लिए सबसे पहले 10वीं और 12वीं की परीक्षा किसी भी इस क्रीम और किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय या बोर्ड से पूरा करना आवश्यक है।

Step 2 – 12वीं या स्नातक के बाद आईटीआई की डिग्री हासिल करें।

किसी भी इस ट्रेन से 12वीं करने के बाद या फिर आप किसी भी मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम का चयन करके स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद आप आईटीआई के लिए आवेदन कर सकते हैं सरल शब्दों में अगर आप 12वीं कक्षा पास कर चुके हैं तो आप आईटीआई के लिए आवेदन कर सकते हैं अपने जिला में ITI कॉलेज कौन सा है यह पता करे और निर्देश अनुसार आईटीआई कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करें और अपनी आईटीआई की शिक्षा को पूरा करें।

Step 3 – आईटीआई में मार्क्स के आधार पर रेलवे ड्राइवर का फॉर्म भरे 

प्रत्येक साल सरकार रेलवे ड्राइवर की नौकरी के लिए लोको पायलट के नाम से फॉर्म निकालती है जिसे आप किसी भी सरकारी नौकरी वाले वेबसाइट से हासिल कर सकते हैं इस फॉर्म को भारतीय वक्त आपको अपना आईटीआई में अंक कितना आया है यह बताना पड़ता है उसके आधार पर आप रेलवे ड्राइवर के फॉर्म को भर कर जमा करेंगे और उसके बाद परीक्षा में बैठने के लिए आपको एडमिट कार्ड दिया जाएगा।

Step 4 – रेलवे ड्राइवर की परीक्षा पास करें

ऊपर बताए गए निर्देशों का पालन करते हुए अगर आप पर रेलवे ड्राइवर के फॉर्म को भर देंगे तो एक निश्चित तारीख को आपको एडमिट कार्ड दिया जाएगा जिसमें परीक्षा का जगह और समय बताया जाएगा वहां जाकर आपको रेलवे ड्राइवर के लिए लिखित परीक्षा पास करनी है जिसके बाद आप अपने अंक के अनुसार अपना नाम मेरिट लिस्ट में देख पाएंगे जितने बच्चों का नाम मेरिट लिस्ट में आएगा वह लोग रेलवे ड्राइवर बन सकते है। 

रेलवे ड्राइवर की सैलरी (Railway driver Salary Kitni Hai)

किसी भी नौकरी को हम उस में मिलने वाली तनख्वाह की वजह से करते हैं अगर आप रेलवे ड्राइवर की नौकरी करना चाहते हैं तो इसके पीछे अवश्य आप रेलवे ड्राइवर को मिलने वाली तनख्वाह और अन्य सुविधाओं के बारे में जानना चाहते होंगे जिसके बारे में बताते हुए हम कहेंगे कि रेलवे ड्राइवर की तनख्वाह उसके अनुभव पर निर्भर करती है सुविधा के तौर पर सरकार के तरफ से एक घर गाड़ी और पूरे भारत में किसी भी रेलगाड़ी से मुफ्त में घूमने की सुविधा दी जाती है जिसका लाभ उसका परिवार उठा सकता है।

अगर हम रेलवे ड्राइवर के प्रमुख बेसिक तनख्वाह की बात करें तो वह ₹13500 प्रतिमाह होता है मगर उसमें महंगाई भत्ता, डीए, पीए जोड़ने के बाद नौकरी के शुरुआत में एक रेलवे ड्राइवर की तनख्वाह ₹40500 हो जाती है।

आपको बता दें कि यह शुरुआती तनख्वाह होती है जो वक्त के साथ धीरे-धीरे बढ़ती जाती है इसके अलावा प्रत्येक रेल ड्राइवर को रनिंग एलाउंस भी दिया जाता है अर्थात अगर वह 100 किलोमीटर तक ट्रेन चलाता है तो उसे ₹520 अधिक दिए जाते हैं और वह जितना दूर तक ट्रेन चलाएगा उसके आधार पर रोजाना उसका अलग से पेमेंट भी बनता है।

सरल शब्दों में एक रेलवे ड्राइवर को महीना में ₹40500 नौकरी की तनख्वाह के रूप में दिया जाएगा और अगर उसने महीने में 10 दिन 100 किलोमीटर ट्रेन चलाया है तो ₹5000 एक्स्ट्रा दिया जाएगा। इस वजह से रेल ड्राइवर कोशिश करता है कि वह हर रोज 100 किलोमीटर से ज्यादा ट्रेन चलाने का प्रयास करें।

आपको यह भी जानना चाहिए कि रेलवे ड्राइवर को 4 साल तक एक ही तनख्वाह दी जाती है उसके बाद उसकी तनख्वाह में इजाफा होना शुरू होता है हालांकि एक रेल ड्राइवर किसी भी अन्य सरकारी नौकरी के मुकाबले ज्यादा कमाता है क्योंकि उसके तनख्वाह के अलावा वह जितना 100 किलोमीटर ट्रेन चलाएगा उस प्रत्येक 100 किलोमीटर के लिए उसे ₹520 एक्स्ट्रा दिए जाते हैं जो उसके लिए एक अलग से पेमेंट का काम करता है।

इसके अलावा उसके परिवार को किसी भी ट्रेन से भारत भर में मुफ्त घूमने की सुविधा दी जाती है सरकार की तरफ से रेलवे हॉस्पिटल और रेलवे स्कूल में बच्चों को पढ़ाने की सुविधा भी दी जाती है इन सब को जानने के बाद अगर आपका मन एक रेलवे ड्राइवर बनने का कर रहा है तो ऊपर बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करते हुए रेलवे ड्राइवर की नौकरी के लिए आवेदन करें।

Also Read: Hotstar Download Kaise Kare – हॉटस्टार डाउनलोड कैसे करे?

निष्कर्ष

आज के लेख में हमने आपको यह बताने का प्रयास किया कि railway driver salary kitni hai कितनी होती है रेलवे ड्राइवर क्या काम करता है साथ ही उसकी क्या जिम्मेदारी होती है इन सभी बातों को समझने के बाद अगर आप रेलवे ड्राइवर के कार्य और उसकी मेहनत को समझ पाए हैं तो कड़ी मेहनत करते हुए अपनी सारी शिक्षण योग्यता और उम्र योग्यता को ध्यान में रखते हुए रेलवे ड्राइवर के लिए आवेदन करें और सरकार के तरफ से इस भव्य सरकारी नौकरी का मजा उठाएं।

अगर इस लेख को पढ़ने के बाद रेलवे ड्राइवर की सैलरी के बारे में आप सब कुछ समझ पाए हैं तो इसे अपने मित्रों के साथ ही साझा करें साथी जितने व्यक्ति को रेलवे ड्राइवर के बारे में जानकारी एकत्रित करनी है साथ ही आपके कितने दोस्त रेलवे ड्राइवर की नौकरी पाना चाहते हैं उन्हें भी इस लेख के बारे में बताएं अगर इस तरह के किसी अन्य सवाल का जवाब आपको चाहिए तो कमेंट करके पूछना ना भूलें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *