Vishv ka Sabse Badi Nadi - जानिए विश्व की सबसे बड़ी नदी

0

 हमारे भारत देश में जब भी लंबी नदियों के बारे बात किया जाता है, तब गंगा नदी का नाम ही लिया जाता है, लेकिन क्या आप सभी जानते हैं के विश्व का सबसे बड़ा नदी कौन सा है?

विश्व की सबसे लंबी नदियों में गंगा का नाम नहीं आता यानी विश्व में गंगा से भी बड़ी कई नदियां हैं | विश्व में कई नदियां हैं जो काफी बड़ी हैं उनमें से कुछ नीचे दी गई है-


      नील नदी, अफ्रीका

      अमेजन नदी, साउथ अमेरिका

      यांगत्जी नदी, चीन

      मिसिसिपी-मिसौरी, यूएस

      येनिस-अंगारा-सेलेंगा,रूस और मंगोलिया

      यलो नदी,चीन

      ओब-इरटिस नदी, रूस और कजाखस्तान

      पराना नदी, साउथ अमेरिका

      कांगो नदी, अफ्रीका

      अमूर-अर्गुन नदी, रूस और चीन

 

ऊपर दी गई सूची में आपको पता चल रहा है कि विश्व की 10 सबसे बड़ी नदियां कौन सी है लेकिन इस सूची में प्रथम स्थान पर नील नदी का नाम आता है तो आइए पता करते हैं के विश्व की सबसे बड़ी नदी नील क्यों है ?



विश्व का सबसे बड़ा नदी नील नदी है।

अफ्रीका महाद्वीप में स्थित है नील नदी।नील नदी इथोपिया से  बहकर मिस्र और सूडान में आती है। नील नदी कई देशों से होकर गुजरती है जैसे खंडा,कांगो,बुरंडी, तंजानिया,केनिया,युगांडा, दक्षिण सूडान इथियोपिया , सूडान , लोकतांत्रिक गणराज्य और मिस्र में मिलती है।

अगर विश्व की सबसे बड़ी नदी की बात की जाए तो सब से पूर्व नाम आता है नील नदी का , नॉर्थ ईस्ट अफ्रीका में बहने वाली है इसकी लंबाई ६६५०किलोमीटर है।

नील नदी विश्व की सबसे बड़ी नदी है इसकी कई सहायक नदियां भी है। जिसमें से श्वेत नील एवं नीली नील मुख्य है। यह 160 किलोमीटर लंबा अर्थात 14 किलोमीटर चौड़ा विशाल डेल्टा अपने सामने बनाती है। इस नदी के घाटी मैं मिस्र की प्राचीन सभ्यता का विकास भी हुआ है,नील नदी की घाटी एक पतली सी पट्टी जैसी है जिसकी अधिकांश भाग की चौड़ाई 16 किलोमीटर से ज्यादा नहीं है।

 

कहीं-कहीं तो इसकी चौड़ाई 200 मीटर से भी कम है। नील नदी की घाटी दक्षिण भाग भूमध्य रेखा से निकट स्थित है।जिस कारण से वह भूमध्या रेखाएं जलवायु पाई जाती है, इस कारणवश यहां सालों भर वर्षा होती रहती है।यहां सावना नामक उष्ण कटि बंधीय घास का मैदान भी पाया जाता है , अफ्रीका से बहने वाली एक नदी का नाम नील है जिसके पीछे अनेक पुरानी कथाएं जुड़ी है। विश्व के पिरामिड के लिए पत्थर नील नदी के रास्तों से लाया गया था।

Also Read - भारत का सबसे बड़ा पुल - Bharat ka sabse bada pul

निष्कर्ष

ऊपर दिए गए लेख में आप पता लगा सकते हैं के विश्व की सबसे बड़ी नदी कौन सी है और उसे विश्व का सबसे बड़ी नदी क्यों कहा जाता है और उसके पीछे क्या कथाएं जुड़ी हैं। ऊपर दी गई लेख से संबंधित कोई भी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं या कोई भी सवाल करना चाहते हैं तो आप नीचे कमेंट सेक्शन में लिखकर हमें भेज सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments
Post a Comment (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !
To Top